आप सभी का स्वागत है. रचनाएं भेजें और पढ़ें.
उन तमाम गुरूओं को समर्पित जिन्होंने मुझे ज्ञान दिया.

Friday, January 9, 2009

रोज़ सुबह अखबार में

-राजेन्द्र राज

अम्मा ने लगाई फटकार
लालू उठकर हुए तैयार
चारे की रकम में से
सौ साड़ियाँ भिजवाईं हैं।

2 comments:

रजनीश January 9, 2009 at 9:59 PM  

चारा खाने के कारण ही तो लालू बिहार में बेचारा हो गये ।

About This Blog

  © Blogger templates ProBlogger Template by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP